Indian Railway : ट्रेनों के किराए में हुई मनमाना वृद्धि, जानिए कितना बढ़ा किराया

By | October 7, 2022
Advertisement
Indian Railway : ट्रेनों के किराए में हुई मनमाना वृद्धि, जानिए कितना बढ़ा किराया

Indian Railway : ट्रेनों के किराए में हुई मनमाना वृद्धि, 130 ट्रेनों का बढ़ गया किराया, जानिए कितना बढ़ा किराया

Video देखे पैसा कमाएं





Indian Railway Fare : ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को बहुत ही बड़ा छटका लगा है। देश भर में 130 मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों को सुपरफास्ट का दर्जा देकर सभी श्रेणियों के किराए को बढ़ा दी है. रेलवे ने ट्रेनों के एसी-1 और एग्जीक्यूटिव क्लास में 75 रुपये प्रति यात्री, एसी-2,3 चेयर कार में 45 रुपये और स्लीपर श्रेणी की ट्रेनों में 30 रुपये प्रति यात्री किराए बढ़ा दी है. इस तरह से पीएनआर (6 यात्रियों) की बुकिंग में यात्रियों को एसी-1 में 450 रुपये, एसी-2-3 में 270 रुपये और स्लीपर में 180 रुपये का अतिरिक्त राशि देना होगा. यह नियम 1 अक्टूबर से लागू कर दी गई है.

Download SarkariExam App

 

यात्रियों के सुविधाओं में कोई इजाफा नहीं 

हालांकि इन सभी ट्रेनों में खानपान, यात्री सुरक्षा या सुविधाओं में कोई इजाफा नहीं किया गया है. केवल सुपरफास्ट में तब्दील करके किराया बढ़ा दिया गया है.रेलवे के नियमों के मुताबिक 56 किमी प्रति घंटे की औसत रफ्तार से चलने वाली ट्रेनों को टाइम टेबल में सुपरफास्ट का दर्जा दिया जाता है। 

जानकारों का कहना है कि भारतीय रेलवे पिछले 45 सालों से ट्रेनों की औसत रफ्तार बढ़ाने में नाकाम रही है. इसमें चार दशकों से मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों की औसत गति 50 से 58 किमी प्रति घंटा है, जबकि रेलवे की प्रीमियम राजधानी, शताब्दी, दुरंतो ट्रेनों आदि की औसत गति 70-85 किमी प्रति घंटे है. करीब 15-20 फीसदी ट्रेनें समय पर अपने गंतव्य तक नहीं पहुंच पाती हैं. करीब 60 फीसदी ट्रेनें 15-20 मिनट देरी से पहुंचती हैं। 

Download gb watsapp.app update

लाखों यात्री नहीं कर पाएंगे ट्रेन से सफर !

बता दें कि नई रेलवे टाइम टेबल 2022-23 में बड़ी संख्या में पैसेंजर ट्रेनों को मेल-एक्सप्रेस का दर्जा दिया गया है. इसका सीधा मतलब है कि प्रतिदिन यात्रा करने वाले लाखों यात्री इन ट्रेनों में यात्रा नहीं कर पाएंगे, क्योंकि किराया बढ़ा दिया गया है. इतना ही नहीं बिना टिकट यात्रा करने पर किराया और जुर्माना दोनों वसूला जाएगा. इसके अलावा मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों में किराए के अलावा रिजर्वेशन चार्ज, सुपरफास्ट चार्ज समेत जीएसटी लगता है।  

उदाहरण के लिए टाइम टेबल 2022-23 में दिल्ली-भटिंडा (ट्रेन नंबर 20409) पैसेंजर ट्रेन को मेल-एक्सप्रेस का दर्जा दिया गया है. इसकी दूरी 298 किमी है, जबकि रेलवे के नियमों के अनुसार पैसेजर ट्रेनें 325 किमी तक चलती हैं. इतना ही नहीं इस ट्रेन को सुपरफास्ट का दर्जा भी दिया गया है. दिल्ली-सहारनपुर (ट्रेन नंबर 20411) को पैसेंजर टू मेल-एक्सप्रेस का दर्जा दिया गया है, जबकि दिल्ली-सहारनपुर की दूरी 181 किलोमीटर है। 

Reels Downloader without login





Bank Jobs

  • MPESB Forest Guard, Jail Prahari Online Form 2023
  • Sarkari Naukri : सरकारी नौकरी की समस्त जानकारी पढे अभी
  • IOCL Pipelines Apprentice Online Form 2022
  • अब Whatsapp के जरिये पाइये SarkariExam अपडेट
  • MP ESB ITI Training Officer Online Form 2022
  • MP PEB Group II Various Post Admit Card 2022
  • IBPS Specialist Officer SO XII Online Form 2022
  • Railway Jobs

  • Railway RRC WCR Apprentice Online Form 2022
  • Railway 1.5 Lakh Various Post Online Form 2022
  • Railway Group D Online Form 2022 (103769 Post)
  • Railway Group D : रेलवे ग्रुप डी Answer Key हुआ जारी, यहाँ से डाउनलोड करें
  • Railway RPF Constable Online Form 2022 (15,000 Post)
  • Indian Railway : ट्रेनों के किराए में हुई मनमाना वृद्धि, जानिए कितना बढ़ा किराया
  • Railway Group D News : फिज़िकल में हुआ बड़ा बदलाव, जाने पूरी डिटेल्स
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *